क्या आपको भी चिट्ठाकारी का नशा हो गया है Hindi Blogging Cartoons

क्या आपको भी चिट्ठाकारी का नशा हो गया है Hindi Blogging Cartoons. ब्लॉगिंग का नशा बहुत ही बुरा है. एक बार लग जाए तो छूटना मुश्किल है. इस ब्लॉगिंग के नशे में क्या क्या हाल होते हैं उसी को इन कार्टूनों के जरिये मैंने बताने की कोशिश की है.


1. जब आप अपने नाम की जगह दूसरों को अपने चिट्ठे का नाम बताने लगें और पते के स्थान पर URL बताने लगें।

2. जब आप सुबह सुबह उठते ही कंप्यूटर ऑन करके बैठ जायें या शौचालय में भी अपना लैपटॉप साथ ले जायें।

3. जब रु 25000/- प्रतिमाह की तन्ख्वाह से ज्यादा महत्वपूर्ण रोज के $0.08 लगने लगें।

4. जब खुद की साधुवादिता पर ही आपको हीन भावना होने लगे।

 


28 Comments

  1. चिठ्ठाजगत को आखिरकार एक बेहतर कार्टूनिस्ट मिल ही गया… कम शब्दों में बहुत कुछ कह दिया…. मजेदार कार्टून!

  2. क्या बात है. कमाल कर दिया आइनाजी आपने. बहुत खुब.

    मैं तरकश से संजय जोगलिखी.

  3. हा हा हा हा हा हा …………………………..ब्लागर के जीवन का सच आपने पन्ने पर उतार दिया 🙂

  4. हा हा, मजा आ गया। जबरदस्त!

    वैसे तो स‌भी एक स‌े बढ़कर एक हैं लेकिन तीसरे वाला खास‌ पसंद आया। 🙂

  5. लम्हें जिन्दगी को…….आईना देख बहुत मजा आ गया।
    मुझे लगा था ये लत मुझे ही है अच्छा लगा सब का यही हाल है।
    बहुत सुन्दर।

  6. अति उत्तम !! जम कर कार्टून बनायें — शास्त्री जे सी फिलिप

    हिन्दी ही हिन्दुस्तान को एक सूत्र में पिरो सकती है
    http://www.Sarathi.info

  7. बहुत बढ़िया कार्टून्स हैं. 🙂 एकदम शानदार और खूब दिमाग़ी पेंच लड़ाया है.. एकदम ओरीजिनल आइडियाज़ 😉

  8. सभी कार्टून का एक टैग बनाया जाए (“हिन्दी कार्टून”) टाइप का, ताकि टैक्नोराती पर सारे कार्टून एक साथ दिख सकें।

Comments are closed.