आईना » Blog » हिंदी ब्लॉग के लिए ब्लॉगर और वर्डप्रेस में फर्क

हिंदी ब्लॉग के लिए ब्लॉगर और वर्डप्रेस में फर्क

हिंदी ब्लॉग के लिए ब्लॉगर और वर्डप्रेस में फर्क और उनके लिए कौन सा प्लेटफ़ोरम सही रहेगा। हिंदी में ब्लॉग लिखना मैंने अब से लगभग नौं साल पहले अप्रैल 2006 में शुरू किया था. आईना पर पिछला पोस्ट मैंने 2012  में लिखा था जो की एक फेसबुक प्लगइन के बारे में था. इस बीच कुछ पोस्ट मैनें अपने  शेयर बाज़ार के हिंदी ब्लॉग पर लिखे हैं मगर आईना पर पिछले तीन  साल से कुछ नहीं लिखा. ना लिखने का पछतावा तो है मगर इस दौरान दूसरी पारी शुरू करने की तैयारी चलती रही.  ईश्वर ने चाहा तो अब नियमित रूप से आईना पर लिखना जारी रहेगा.


हिंदी ब्लॉग के लिए ब्लॉगर और वर्डप्रेस  में फर्क
हिंदी ब्लॉग के लिए ब्लॉगर और वर्डप्रेस में फर्क

ब्लॉग लिखने की यात्रा मैंने ब्लॉगस्पॉट  से शुरू की थी. फिर जब ब्लॉगस्पॉट पर बैन  लगा तो कुछ अरसे के लिए ब्लॉग को वर्डप्रेस.com पर ले गया.  पिछले लगभग एक वर्ष से अपने दोनों ब्लॉग  सेल्फ होस्टेड wordpress.org पर ले आया.  wprdpress.org पर ब्लॉग को जमाने में लंबा समय लगा मगर नतीजा बहुत फलदायक रहा. नीचे दिखाए ग्राफ से आप देख सकते हैं कि blogspot से wordpress.org आने से पाठकों की संख्या किस प्रकार बढ़ गयी.

visitors

हिंदी ब्लॉग के लिए ब्लॉगर और वर्डप्रेस में फर्क समझना ज़रूरी है। बहुत आसान नहीं रहा ब्लॉगस्पॉट से ब्लॉग को सेल्फ होस्टेड वर्डप्रैस पर लाना. आपको इंगलिश ब्लॉग को ब्लॉगर से वर्डप्रेस पर लाने के बहुत से लेख इन्टरनेट पर मिल जायेंगे. मगर मुझे हिंदी ब्लॉग को कैसे ब्लॉगर से वर्डप्रेस पर लाना है जिससे कि ब्लॉग की SERP (Search engine results page) में कोई बुरा असर ना पड़े ऐसा एक भी लेख नहीं मिला. इस दौरान ना सिर्फ होस्टिंग बदली, ब्लॉग पर और भी बहुत काम किया. बहुत से ऐसे पोस्ट जिनका अब कोई महत्व नहीं था उन्हें हटा दिया. बाकी सभी पोस्टों में SEO (सर्च इंजन ऑप्टमाईजेशन) की जरूरतों के अनुसार बदलाव किये.
यह सब पढ़ कर हो सकता है आपके दिमाग में यह सब प्रश्न आ रहे होंगें:

  • कैसे लायें ब्लॉग को ब्लॉगर से वर्डप्रेस पर?
  • हिंदी ब्लॉग को वर्डप्रेस पर लाने में ऐसी कौन सी कठिनाइयाँ हैं जो इंग्लिश ब्लॉग में नहीं होतीं?
  • Blogspot, wordpress.com और wordpress.org में क्या फर्क है?
  • वर्डप्रेस ब्लॉगस्पॉट से क्यों बेहतर है?
  • आईना पर पाठक कम और शेयर बाजार पर पाठक अधिक क्योँ हैं?
  • हिंदी ब्लॉग पर SEO कैसे किया जा सकता है?

इन सब सवालों के जवाब मेरे कुछ अगले लेखों में बताये जायेंगे.

2 thoughts on “हिंदी ब्लॉग के लिए ब्लॉगर और वर्डप्रेस में फर्क”

  1. अभिजीत,
    डोमेन और होस्टिंग का खर्चा आया, बाकी सब मैंने खुद ही किया है.

Leave a Comment